J. K. Rowling

आज हमारे बीच में ऐसे बहुत कम लोग है जो हैरी पॉटर के बारे में नहीं जानते होंगे । हैरी पॉटर की लेखिका का नाम जोआन रोलिंग है इन्हें जे. के. रोलिंग के नाम से भी जाना जाता है । इन्हें बचपन से ही अजीबोगरीब कहानियां लिखने का बहुत शौक था बचपन में जोआन अजीब अजीब कहानियां लिखती रहती थी और अपनी बहन को सुनाती रहती थी ।

J.K. Rowling

जब वह 25 वर्ष की थी तब इनकी मां की मृत्यु हो गई थी।जोआन अपनी मां से बहुत प्यार करती थी । इनकी जिंदगी का शुरुआती दौर बहुत ही मुश्किल परिस्थितियों में गुजरा था । इसके बाद इन्होंने शादी कर ली लेकिन इनकी शादीशुदा जिंदगी ज्यादा समय तक टिकी नहीं और जल्दी ही इनका  तलाक हो गया । अब इनके ऊपर इनकी छोटी बच्ची की जिम्मेदारी आ गई थी । इनके पास कोई काम नहीं था फिर भी उन्होंने अपना लेखन का कार्य नहीं छोड़ा वह लगातार कहानियां लिखती रही ।

जब वह मैनचेस्टर से लंदन ट्रेन में सफर कर रही थी तब उनके दिमाग में एक जादूगरी के स्कूल की एक कहानी आई जिसमें एक यंग लड़का जादू के स्कूल में पढ़ने जाता है । उन्होंने पूरी कहानी को अपने मन में ही गढ़ लिया और इसी तरह हैरी पॉटर कहानी की शुरुआत हुई |

उनके पहले नावेल का नाम Harry Potter & The Philosopher’s Stone था । जब उनकी पहली किताब कंप्लीट हो गई तब उसे पब्लिश करने के लिए कई पब्लिशर के पास गई ।
पर सारे पब्लिशर ने उन्हें मना कर दिया ऐसे करते करते 12 पब्लिशर ने उन्हें उनकी किताब पब्लिश करने से मना कर दिया । उन्हें अपनी किताब पब्लिश करने के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ी आखिरकार एक पब्लिशर ने उनकी किताब को पब्लिश करने का फैसला किया लेकिन उसे लगता था कि यह किताब कुछ नहीं कर पाएगी इसे ज्यादा लोग पसंद नहीं करेंगे,पर इसका बिल्कुल उल्टा हुआ उनकी किताब को बच्चों के अलावा बड़ो ने भी बहुत पसंद किया और इसी तरह देखते देखते वह दुनिया की सबसे अमीर लेखिका बन गई ।

उनके द्वारा लिखित हैरी पॉटर सारे नावेल को फिल्म निर्माता Warner Bros ने खरीद लिया ‌।


Note :- हमारे द्वारा दी गयी जानकारी मैं आपको कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट करे हम इसे अपडेट करते रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here